Rakesh Kumar r.k.k

💞💕छुपा लूंगा तुझे इस तरह से मेरी बाहों में,💕
हवा भी गुज़रने के लिए इज़ाज़त मांगे,💕
हो जाऊं तेरे इश्क़ में मदहोश इस तरह,💕
कि होश भी वापस आने के इज़ाज़त मांगे…..❤💓”दिल की हसरत मेरी ज़ुबान पे आने लगी;
तुमने देखा 😘और ये ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी;
ये इश्क़ के इन्तहा थी या दीवानगी मेरी;😚
हर सूरत में मुझे सूरत तेरी नज़र 👉👰आने लगी।💝💘*कितना प्यार है तुमसे ….* 💞
*वो लफ्जों के सहारे ….* 😘
*कैसे बताऊँ ….* 💞
*सिर्फ महसूस होते ….* 😘
*एहसासों की गवाही ….* 💞
*कहाँ से लाऊँ ….* 😘*परछाई आपकी हमारे ….* 💞
*दिल में है ….* 😘
*यादें आपकी हमारी ….* 💞
*आँखों में है ….* 😘
*कैसे भुलाये हम आपको ….* 💞
*आपका प्यार हमारी साँसों में है ….* 😘

Author: Rakesh Kumar rkk

_😊मै *😕मतलबी* ❌नही जो 🤝चाहने वालो को *😡धोका दू...........*_ _*↬ⓐ৳」ⓐ∽↫*_ _☝🏻बस, 😊मुझे *🔆समझना 👉हर* किसी के ✊बस की *बात ❌नही है............*_ _

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s